राजस्थान के एकमात्र ठंडे स्थल और दर्शनीय स्थल माउंट आबू का वर्णन Mount Abu tourist place in hindi

राजस्थान के एकमात्र ठंडे स्थल और दर्शनीय स्थल माउंट आबू का वर्णन Mount Abu tourist place in hindi

राजस्थान के सिरोही जिले में स्थित अरावली की पहाड़ियों की सबसे ऊँची चोटी पर बसे माउंट आबू की भौगोलिक स्थित और वातावरण राजस्थान के अन्य शहरों से भिन्न व मनोरम है। यह स्थान राज्य के अन्य हिस्सों की तरह गर्म नहीं है। माउंट आबू को आबू रोड के नाम से भी जाना जाता है। माउंट आबू हिन्दू और जैन धर्म का प्रमुख तीर्थस्थल है। यहां का ऐतिहासिक मंदिर और प्राकृतिक खूबसूरती सैलानियों को अपनी ओर खींचती है। राजस्थान की अरावली पहाड़ियों की सबसे ऊँची चोटी पर बसे माउंट आबू की अपनी अलग ही छटा है। यह राजस्थान का एकमात्र खूबसूरत हिल स्टेशन है और देश-विदेश से लोग यहाँ हर मौसम में घूमने आते हैं।

माउंट आबू प्राचीन काल से ही साधु संतों का निवास स्थान रहा है। पौराणिक कथाओं के अनुसार हिन्दू धर्म के तैंतीस करोड़ देवी देवता इस पवित्र पर्वत पर भ्रमण करते हैं। कहा जाता है कि महान संत वशिष्ठ ने पृथ्वी से असुरों के विनाश के लिए यहां यज्ञ का आयोजन किया था। जैन धर्म के चौबीसवें र्तीथकर भगवान महावीर भी यहां आए थे। उसके बाद से माउंट आबू जैन अनुयायियों के लिए एक पवित्र और पूजनीय तीर्थस्थल बना हुआ है। एक कहावत के अनुसार आबू नाम हिमालय के पुत्र आरबुआदा के नाम पर पड़ा था। आरबुआदा एक शक्तिशाली सर्प था, जिसने एक गहरी खाई में भगवान शिव के पवित्र वाहन नंदी बैल की जान बचाई थी।


माउन्ट आबू में घूमने लायक प्रमुख दर्शनीय स्थल:- आबू का आकर्षण है कि यहां आए दिन मेला और हर समय सैलानियों की हलचल चाहे शरद हो या ग्रीष्म दिलवाड़ा मंदिर यहाँ का प्रमुख आकर्षण है। माउंट आबू से 15 किलोमीटर दूर गुरु शिखर पर स्थित इन मंदिरों का निर्माण ग्यारहवीं और तेरहवीं शताब्दी के बीच हुआ था। यह शानदार मंदिर जैन धर्म के र्तीथंकरों को समर्पित हैं। दिलवाड़ा के मंदिर और मूर्तियाँ भारतीय स्थापत्य कला का उत्कृष्ट उदाहरण हैं। दिलवाड़ा के मंदिरों से 8 किलोमीटर उत्तर पूर्व में अचलगढ़ किलामंदिर तथा 15 किलोमीटर दूर अरावली पर्वत शृंखला की सबसे ऊँची चोटी गुरु शिखर स्थित हैं। इसके अतिरिक्त माउंट आबू में नक्की झील, गोमुख मंदिर, माउंट आबू वन्यजीव अभयारण्य, सनसेट & सनसाइन पॉइंट, टॉड रॉक आदि भी दर्शनीय हैं।


गुरु शिखर:- माउंट आबू में पर्वत पर गुरु शिखर जो की अरावली पहाड़ी की सबसे ऊँची चोटी है। इसकी उंचाई लगभग 5676 मीटर है। गुरु शिखर में जाकर वहां से नीचे का दृश्य देखना अपने आप में अद्भुत है। यहाँ पर भगवान दत्तात्रेय का मंदिर है जो की एकदम सफ़ेद है। इसके अलावा यहं एक घंटी लगी है जिसे देखकर लगता है कोई चौकीदार पहरा दे रहा है।


नक्की झील:- कहते है की पुराने समय में भगवान् ने अपने नाखूनों से खोदकर इस झील का निर्माण किया था इसीलिए इसका नाम नक्की झील है। माउंट आबू जाने वाला कोई शख्स यहाँ ना जाए ऐसा हो नहीं सकता है। सर्दियों के समय अक्सर इस झील में पानी जम जाता है। पहाड़ की उचाई में स्थित मीठे पानी की यह झील सैलानियों की पहली पसंद है। जब आप माउंट आबू जाएँ तो इस जगह जरूर जाएँ।


अचलगढ़ किला और मंदिर:- माउंट आबू में स्थित एक और दैवीय जगह जहाँ घूमने हर कोई आना चाहता है। इस किले का निर्माण मवाद के राजा राणा कुम्भा ने करवाया था। यह पहाड़ी के ऊपर स्थित है। कहते हैं यहाँ स्थित मंदिर में भगवान् शिव के पैरो के निशान आज भी मौजूद हैं। इसके पास में ही काशीनाथ जैन मंदिर है। आप खुद सोचिये पहाड़ की उचाई में स्थित इस मंदिर और किले में घूमकर आपको कितना सुखद अनुभव मिलेगा।


गोमुख मंदिर:- यह मंदिर माउंट आबू में स्थित है। लेकिन इसकी सबसे खास बात यहाँ बनी गाय की एक मूर्ती है। इस गाय के मुंह से प्राकृतिक रूप से पानी आता है लेकिन कोई पता नहीं लगा पाता की कहा से पानी आ रहा है। इसी वजह से इसे गोमुख मंदिर कहा जाता है। मंदिर में एक सर्प की विशाल प्रतिमा भी है। इसके अलावा संगमरमर से बनी शिव के सवारी नंदी की प्रतिमा भी यहाँ आकर्षक है।


सनसेट और सनराइज पॉइंट:- माउंट आबू पहाड़ी में स्थित है और यहाँ से सूर्य का उगना और उसका अस्त होना देखने के लिए बहुत सारे पर्यटक आते हैं। यहाँ पर एक ही जगह है जिसे सनसेट पॉइंट और सनराइज पॉइंट कहते हैं। सुबह और शाम के समय यहाँ का नजारा बहुत गजब होता है।


टॉड रॉक:- पहाड़ी में बसे माउंट आबू में आपको कई सारे अद्भुत चीजे देखने को मिलती हैं जिसमे एक ये भी है। यहाँ पर आपको एक टॉड रॉक दिखाई देगी जिसका आकार मेंढक जैसा है। ऐसा लगता है मानो कोई मेंढक नदी में कूदने के लिए तैयार है। इसके अलावा यही पास एक नन रॉक है जिसे देखकर लगता है कोई स्त्री घूंघट डालकर बैठी हुई है। यह जगह बहुत अद्भुत है।


Source : wikipedia / google image

राजस्थान के एकमात्र ठंडे स्थल और दर्शनीय स्थल माउंट आबू का वर्णन Mount Abu tourist place in hindi

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.